BackBack

Vikas Niyam

Sirshree

Rs. 175.00

विकास नियम आत्मविकास द्वारा संतुष्टि पाने का राज़ बनाएँ विकास नियम को अपना आदर्श विकास नियम हमारे चारों ओर काम कर रहा है I फिर चाहे वह शरीर का विकास हो, बुद्धि का विकास हो, शहर या देश एक विकास हो I यह नियम तो एक बुनियादी नियम है; यह... Read More

Description
विकास नियम आत्मविकास द्वारा संतुष्टि पाने का राज़ बनाएँ विकास नियम को अपना आदर्श विकास नियम हमारे चारों ओर काम कर रहा है I फिर चाहे वह शरीर का विकास हो, बुद्धि का विकास हो, शहर या देश एक विकास हो I यह नियम तो एक बुनियादी नियम है; यह पूर्णता की चाहत है I आइए, इस पुस्तक द्वारा विकास नियम को अपना आदर्श बना लें और विकास की नई ऊँचाइयों को छू लें Iविकास नियम हर इंसान और वस्तु में छिपी संभावनाओं को प्रकट करने का नियम है I यह आपकी संपूर्ण संतुष्टि की चाहत को पूरा करता है I इस नियम के ज़रिए आप जान सकते हैं कि :• विकास नियम का महामंत्र क्या है • विकास कि शुरुआत कैसे और कहाँ से करें • विकास का विकल्प कैसे चुनें • विकास पर सदा अपनी नज़र कैसे टिकाए रखें • आत्मविकास के स्वामी कैसे बनें• इंसान की अंतिम विकास अवस्था क्या है • स्वयं को और अपने मन की बनाई गई सोच को कैसे जानें विकास नियम के पन्नों में ऐसी हे कई बातों के सरल जवाब छिपे हैं, इन्हें पढ़ना शुरू करें - आज से, अभी से ...