Look Inside
Savant Aunty Ki Ladkiyan
Savant Aunty Ki Ladkiyan
Savant Aunty Ki Ladkiyan
Savant Aunty Ki Ladkiyan

Savant Aunty Ki Ladkiyan

Regular price Rs. 460
Sale price Rs. 460 Regular price Rs. 495
Unit price
Save 7%
7% off
Tax included.

Earn Popcoins

Size guide

Pay On Delivery Available

Rekhta Certified

7 Day Easy Return Policy

Savant Aunty Ki Ladkiyan

Savant Aunty Ki Ladkiyan

Cash-On-Delivery

Cash On Delivery available

Plus (F-Assured)

7-Days-Replacement

7 Day Replacement

Product description
Shipping & Return
Offers & Coupons
Read Sample
Product description

मिथकों और दंतकथाओं का आविष्कार गीत चतुर्वेदी की कहानियों की विशेषता है। हमारी इतिहास चेतना को तथ्यों के घटाटोप में मूँदकर तबाह करने के षड्यंत्र की मुख़ालफ़त करते हुए गीत की कहानियाँ व्यष्टि के बहाने समष्टि का भावात्मक इतिहास बनकर पाठकों के कलात्मक आस्वाद का विस्तार करती हैं। चाहे 'सौ किलो का साँप' हो, 'सावंत आंटी की लड़कियाँ' या फिर 'साहिब है रंगरेज' जैसी कहानी, गीत हमारे समाज के अवचेतन में दबी पड़ी उत्कंठाओं, आशाओं व दुराशाओं को एक गहन अन्‍तर्दृष्टि के साथ रचनात्मक लहज़े में ढालते हैं।...(उनकी कहानियों के) संसारों की बहुलता के मूल में है भाषा की बहुध्वन्यात्मकता। गीत भाषा के साथ बहुत सजग और रचनात्मक खिलवाड़ करते हैं।
—प्रियम अंकित; प्रगतिशील वसुधा।
इक्कीसवीं सदी के पहले दशक के मेरे प्रिय कवि व कथाकार हैं गीत चतुर्वेदी।
—नामवर सिंह
‘सावंत आंटी की लड़कियाँ’ जीवन को गहरी उथलपुथल में डालती हैं। कठोर इलाकों में प्रवेश करती हुई वे लगभग बेक़ाबू हैं, उनका जोखिम ज़बर्दस्त है, शास्त्रीयता का मुखौटा तोड़नेवाला। यह कहानी फ़तह नहीं, त्रासदी है।
—ज्ञानरंजन
गीत चतुर्वेदी ने अपने गल्प व कविताओं में अवां-गार्द भाव दिखाया है। उनका अध्ययन बेहद विस्तृत है जो कि उनकी पीढ़ी के लिए एक दुर्लभ बात है। यह पढ़ाई उनकी रचनाओं में अनायास व सहज रूप से गुँथी दिखती है। उनकी भाषा व शैली अभिनव है। उनके पास सुलझी हुई दृष्टि है जिसमें क्लीशे नहीं और जो कि वर्तमान विचारधारात्मक खेमों के शिकंजे में भी फँसी हुई नहीं है।
—अशोक वाजपेयी
गीत चतुर्वेदी समकालीन रचनाशीलता के विरल उदाहरण हैं। कविता, कहानी व अनुवाद में उन्होंने कई यादगार काम किए हैं। ‘साहिब है रंगरेज़’ उनके कथाकार की उपलब्धि है।
—अखिलेश
गीत चतुर्वेदी विरल रचनाकारों में से एक हैं। ‘साहिब है रंगरेज़’ निश्चित ही एक बेहतरीन रचना है। हमारे समय की जीवित मन:स्थितियों का एक पाठ।
—जीतेन्द्र गुप्ता Mithkon aur dantakthaon ka aavishkar git chaturvedi ki kahaniyon ki visheshta hai. Hamari itihas chetna ko tathyon ke ghatatop mein mundakar tabah karne ke shadyantr ki mukhalfat karte hue git ki kahaniyan vyashti ke bahane samashti ka bhavatmak itihas bankar pathkon ke kalatmak aasvad ka vistar karti hain. Chahe sau kilo ka sanp ho, savant aanti ki ladakiyan ya phir sahib hai rangrej jaisi kahani, git hamare samaj ke avchetan mein dabi padi utkanthaon, aashaon va durashaon ko ek gahan an‍tardrishti ke saath rachnatmak lahze mein dhalte hain. . . . (unki kahaniyon ke) sansaron ki bahulta ke mul mein hai bhasha ki bahudhvanyatmakta. Git bhasha ke saath bahut sajag aur rachnatmak khilvad karte hain. —priyam ankit; pragatishil vasudha.
Ikkisvin sadi ke pahle dashak ke mere priy kavi va kathakar hain git chaturvedi.
—namvar sinh
‘savant aanti ki ladakiyan’ jivan ko gahri uthalaputhal mein dalti hain. Kathor ilakon mein prvesh karti hui ve lagbhag beqabu hain, unka jokhim zabardast hai, shastriyta ka mukhauta todnevala. Ye kahani fatah nahin, trasdi hai.
—gyanranjan
Git chaturvedi ne apne galp va kavitaon mein avan-gard bhav dikhaya hai. Unka adhyyan behad vistrit hai jo ki unki pidhi ke liye ek durlabh baat hai. Ye padhai unki rachnaon mein anayas va sahaj rup se gunthi dikhti hai. Unki bhasha va shaili abhinav hai. Unke paas suljhi hui drishti hai jismen klishe nahin aur jo ki vartman vichardharatmak khemon ke shikanje mein bhi phansi hui nahin hai.
—ashok vajpeyi
Git chaturvedi samkalin rachnashilta ke viral udahran hain. Kavita, kahani va anuvad mein unhonne kai yadgar kaam kiye hain. ‘sahib hai rangrez’ unke kathakar ki uplabdhi hai.
—akhilesh
Git chaturvedi viral rachnakaron mein se ek hain. ‘sahib hai rangrez’ nishchit hi ek behatrin rachna hai. Hamare samay ki jivit man:sthitiyon ka ek path.
—jitendr gupta

Shipping & Return

Contact our customer service in case of return or replacement. Enjoy our hassle-free 7-day replacement policy.

Offers & Coupons

Use code FIRSTORDER to get 10% off your first order.


Use code REKHTA10 to get a discount of 10% on your next Order.


You can also Earn up to 20% Cashback with POP Coins and redeem it in your future orders.

Read Sample

Customer Reviews

Be the first to write a review
0%
(0)
0%
(0)
0%
(0)
0%
(0)
0%
(0)

Related Products

Recently Viewed Products