BackBack
-10%

Samkaleen Vaishvik Patrakarita Mein Akhbar

Pranjal Dhar

Rs. 595.00 Rs. 535.50

Vani Prakashan

आज विश्व में, ख़ासकर तीसरी दुनिया में, एक व्यापक मीडिया साक्षरता अभियान चलाने की सख़्त ज़रूरत है। इस अभियान में ऑडियंस को मीडिया के सन्देशों की बारीकी से पड़ताल करने, उन्हें आलोचनात्मक दृष्टि से ग्रहण करने और सचेत दर्शक-पाठक-श्रोताओं की तरह प्रतिक्रिया करने के लिए तैयार किया जाना चाहिए। उन्हें... Read More

Description
आज विश्व में, ख़ासकर तीसरी दुनिया में, एक व्यापक मीडिया साक्षरता अभियान चलाने की सख़्त ज़रूरत है। इस अभियान में ऑडियंस को मीडिया के सन्देशों की बारीकी से पड़ताल करने, उन्हें आलोचनात्मक दृष्टि से ग्रहण करने और सचेत दर्शक-पाठक-श्रोताओं की तरह प्रतिक्रिया करने के लिए तैयार किया जाना चाहिए। उन्हें इस बात के लिए भी तैयार किया जाना चाहिए कि वे मीडिया के उन सन्देशों के विरुद्ध उचित मंचों पर शिकायत भी करें जिन्हें वे व्यापक जनहित में नहीं देखते हैं। यह तभी सम्भव है जब मीडिया को गम्भीरता से देखने और उस पर लिखने वाले लोग सामने आयें। ऐसे मीडिया आलोचकों की आज बहुत ज़रूरत है जो ऑडियंस को मीडिया के एक सतर्क और सतेज उपभोक्ता और नागरिक के सरोकारों से लैस कर सकें।