BackBack

Paristhitik Sankat Aur Samkaleen Rachanakar

Edited by Dr. Usha Nair

Rs. 795.00

केन्द्रीय हिन्दी संस्थान के संयुक्त तत्वाधान में सेण्ट तेरेसास कॉलेज, एरणाकुलम के हिन्दी विभाग की ओर से ‘जल और ज़मीन की सम्वेदना और समकालीन हिन्दी साहित्य' विषय पर अन्तरराष्ट्रीय संगोष्ठी आयोजित की गयी। इसमें देश-विदेश के कई साहित्यकारों, अध्यापकों और शोधार्थियों ने आलेख प्रस्तुत किये। यह पुस्तक उन विद्वज्जनों के... Read More

BlackBlack
Description
केन्द्रीय हिन्दी संस्थान के संयुक्त तत्वाधान में सेण्ट तेरेसास कॉलेज, एरणाकुलम के हिन्दी विभाग की ओर से ‘जल और ज़मीन की सम्वेदना और समकालीन हिन्दी साहित्य' विषय पर अन्तरराष्ट्रीय संगोष्ठी आयोजित की गयी। इसमें देश-विदेश के कई साहित्यकारों, अध्यापकों और शोधार्थियों ने आलेख प्रस्तुत किये। यह पुस्तक उन विद्वज्जनों के आलेखों का संकलन हैं। पारिस्थितिक संकट से जुड़े विभिन्न मुद्दे और हिन्दी साहित्य की समकालीन रचनात्मकता की चर्चा कराना इन शोधालेखों का मूल उद्देश्य है।