BackBack
-21%

Maujood Ki Nisbat Se

Mahendra Kumar Sani

Rs. 199 Rs. 159

About Book प्रस्तुत किताब 'रेख़्ता हर्फ़-ए-ताज़ा’ सिलसिले के तहत प्रकाशित युवा शाइर महेंद्र कुमार सानी का ताज़ा काव्य-संग्रह है| यह किताब देवनागरी लिपि में प्रकाशित हुई है और पाठकों के बीच ख़ूब पसंद की गई है|   About Author महेन्द्र कुमार 'सानी' का जन्म 5 जून 1984 को अम्बेडकर नगर,... Read More

Description

About Book

प्रस्तुत किताब 'रेख़्ता हर्फ़-ए-ताज़ा’ सिलसिले के तहत प्रकाशित युवा शाइर महेंद्र कुमार सानी का ताज़ा काव्य-संग्रह है| यह किताब देवनागरी लिपि में प्रकाशित हुई है और पाठकों के बीच ख़ूब पसंद की गई है|

 

About Author

महेन्द्र कुमार 'सानी' का जन्म 5 जून 1984 को अम्बेडकर नगर, उत्तरप्रदेश में हुआ। पंचकूला कॉलेज से बी-कॉम और फिर गुरु जम्भेश्वर यूनिवर्सिटी हिसार, हरियाणा से एम-बी-ए किया। काफ़ी अ'र्से से पंचकूला चंडीगढ़ में रहते हैं। नौकरी के साथ साथ उर्दू लिपि भी सीख ली। उर्दू ज़बान–ओ-अदब का गहरा अध्ययन।