Look Inside
Marjar Kosh
Marjar Kosh
Marjar Kosh
Marjar Kosh
Marjar Kosh
Marjar Kosh

Marjar Kosh

Regular price Rs. 651
Sale price Rs. 651 Regular price Rs. 700
Unit price
Save 7%
7% off
Tax included.

Earn Popcoins

Size guide

Pay On Delivery Available

Rekhta Certified

7 Day Easy Return Policy

Marjar Kosh

Marjar Kosh

Cash-On-Delivery

Cash On Delivery available

Plus (F-Assured)

7-Days-Replacement

7 Day Replacement

Product description
Shipping & Return
Offers & Coupons
Read Sample
Product description

मार्जार संस्कृत भाषा का शब्द है। इसका अर्थ होता है—बिल्ली। सामान्यतया बिल्ली से घरेलू बिल्ली का बोध होता है; किन्तु जीवविज्ञान में इस शब्द का विस्तृत अर्थों में प्रयोग किया गया है एवं इसके अन्तर्गत बाघ और सिंह से लेकर पालतू बिल्ली तक को सम्मिलित किया गया है। ये सभी जीव मार्जार परिवार के जीव कहलाते हैं।
बाघ सहित मार्जार परिवार के अन्य जीवों की जानकारी पुस्तक के परिचय में संक्षेप में दी गई है। इनमें रोचक और रोमांचक तथ्यों के साथ ही ज्ञानवर्धक जानकारियाँ भी हैं, जो निश्चित रूप से जनसामान्य के लिए उपयोगी सिद्ध होंगी।
इस पुस्तक का उद्देश्य लोगों में वन्यजीवों के प्रति जागरूकता उत्पन्न करना है। वन्यजीवों का सीधा सम्बन्ध वनों से है। वनों से वर्षा और वर्षा से जीवन। अर्थात् मानव का अस्तित्व बनाए रखने के लिए वन्यजीव आवश्यक हैं। हमारे देश में अधिकांश लोग ऐसे हैं, जिन्होंने बाघ, सिंह, तेंदुए आदि का नाम तो सुना है, किन्तु इनके विषय में कुछ नहीं जानते। घरेलू बिल्लियाँ तो सभी ने देखी होंगी, किन्तु इनके विषय में भी जनसामान्य को विशेष जानकारी नहीं है। भारत में मार्जार परिवार के ऐसे अनेक जीव पाए जाते हैं, जिनका लोगों ने नाम तक नहीं सुना। इस पुस्तक में इन्हीं सब जीवों की जानकारी बड़े रोचक ढंग से दी गई है। Marjar sanskrit bhasha ka shabd hai. Iska arth hota hai—billi. Samanyatya billi se gharelu billi ka bodh hota hai; kintu jivvigyan mein is shabd ka vistrit arthon mein pryog kiya gaya hai evan iske antargat bagh aur sinh se lekar paltu billi tak ko sammilit kiya gaya hai. Ye sabhi jiv marjar parivar ke jiv kahlate hain. Bagh sahit marjar parivar ke anya jivon ki jankari pustak ke parichay mein sankshep mein di gai hai. Inmen rochak aur romanchak tathyon ke saath hi gyanvardhak jankariyan bhi hain, jo nishchit rup se jansamanya ke liye upyogi siddh hongi.
Is pustak ka uddeshya logon mein vanyjivon ke prati jagrukta utpann karna hai. Vanyjivon ka sidha sambandh vanon se hai. Vanon se varsha aur varsha se jivan. Arthat manav ka astitv banaye rakhne ke liye vanyjiv aavashyak hain. Hamare desh mein adhikansh log aise hain, jinhonne bagh, sinh, tendue aadi ka naam to suna hai, kintu inke vishay mein kuchh nahin jante. Gharelu billiyan to sabhi ne dekhi hongi, kintu inke vishay mein bhi jansamanya ko vishesh jankari nahin hai. Bharat mein marjar parivar ke aise anek jiv paye jate hain, jinka logon ne naam tak nahin suna. Is pustak mein inhin sab jivon ki jankari bade rochak dhang se di gai hai.

Shipping & Return

Contact our customer service in case of return or replacement. Enjoy our hassle-free 7-day replacement policy.

Offers & Coupons

Use code FIRSTORDER to get 10% off your first order.


Use code REKHTA10 to get a discount of 10% on your next Order.


You can also Earn up to 20% Cashback with POP Coins and redeem it in your future orders.

Read Sample

Customer Reviews

Be the first to write a review
0%
(0)
0%
(0)
0%
(0)
0%
(0)
0%
(0)

Related Products

Recently Viewed Products