Look Inside
Manav Sharir Aur Rog Pratiraksha Tantra
Manav Sharir Aur Rog Pratiraksha Tantra
Manav Sharir Aur Rog Pratiraksha Tantra
Manav Sharir Aur Rog Pratiraksha Tantra
Manav Sharir Aur Rog Pratiraksha Tantra
Manav Sharir Aur Rog Pratiraksha Tantra

Manav Sharir Aur Rog Pratiraksha Tantra

Regular price Rs. 65
Sale price Rs. 65 Regular price Rs. 70
Unit price
Save 7%
7% off
Tax included.

Size guide

Pay On Delivery Available

Rekhta Certified

7 Day Easy Return Policy

Manav Sharir Aur Rog Pratiraksha Tantra

Manav Sharir Aur Rog Pratiraksha Tantra

Cash-On-Delivery

Cash On Delivery available

Plus (F-Assured)

7-Days-Replacement

7 Day Replacement

Product description
Shipping & Return
Offers & Coupons
Read Sample
Product description

मनुष्य के शरीर में भिन्न-भिन्न कार्यों के लिए अलग-अलग प्रकार की कोशिकाएँ होती हैं। एक ही प्रकार की बहुत-सी कोशिकाएँ मिलकर जो संरचना बनाती हैं, उसे ऊतक कहते हैं।
एक ही तरह के बहुत से ऊतक मिलकर शरीर के अंग विशेष का निर्माण करते हैं। उदाहरणार्थ—मस्तिष्क के निर्माण में तंत्रिका कोशिकाएँ भाग लेती हैं। ये पहले ऊतक बनाती हैं और ऊतक मिलकर ही मस्तिष्क और तंत्रिका तंत्र का निर्माण करते हैं। इसी तरह पेशीय ऊतक, शरीर की पेशियों का निर्माण करते हैं। सम्बन्धित रचना के अनुसार ऊतकों के भी कई प्रकार होते हैं, जैसे संयोजी ऊतक, जो शरीर के अंगों को परस्पर जोड़े रखता है। अस्थि ऊतक जो अस्थियाँ बनाते हैं। उपकला ऊतक त्वचा या अंगों की ऊपरी पर्त का निर्माण करता है। बहुत से ऊतक मिलकर शरीर के अंग और विभिन्न प्रणालियाँ बनाते हैं और इन अंगों और प्रणालियों से मिलकर पूरा शरीर बनता है।
—इसी पुस्‍तक से Manushya ke sharir mein bhinn-bhinn karyon ke liye alag-alag prkar ki koshikayen hoti hain. Ek hi prkar ki bahut-si koshikayen milkar jo sanrachna banati hain, use uutak kahte hain. Ek hi tarah ke bahut se uutak milkar sharir ke ang vishesh ka nirman karte hain. Udaharnarth—mastishk ke nirman mein tantrika koshikayen bhag leti hain. Ye pahle uutak banati hain aur uutak milkar hi mastishk aur tantrika tantr ka nirman karte hain. Isi tarah peshiy uutak, sharir ki peshiyon ka nirman karte hain. Sambandhit rachna ke anusar uutkon ke bhi kai prkar hote hain, jaise sanyoji uutak, jo sharir ke angon ko paraspar jode rakhta hai. Asthi uutak jo asthiyan banate hain. Upakla uutak tvcha ya angon ki uupri part ka nirman karta hai. Bahut se uutak milkar sharir ke ang aur vibhinn prnaliyan banate hain aur in angon aur prnaliyon se milkar pura sharir banta hai.
—isi pus‍tak se

Shipping & Return

Contact our customer service in case of return or replacement. Enjoy our hassle-free 7-day replacement policy.

Offers & Coupons

Use code FIRSTORDER to get 10% off your first order.


Use code REKHTA10 to get a discount of 10% on your next Order.


You can also Earn up to 20% Cashback with POP Coins and redeem it in your future orders.

Read Sample

Customer Reviews

Be the first to write a review
0%
(0)
0%
(0)
0%
(0)
0%
(0)
0%
(0)

Related Products

Recently Viewed Products