BackBack
-11%

Jungle Ke Upyogi Vriksha

Rs. 595 Rs. 530

इस पुस्तक में मानव उपयोगी सात वृक्षों का वर्णन किया गया है। उनके विविध भाषाओं में नाम, उनकी पहचान, उनका प्राप्ति-स्थान, उनकी कृषि, रासायनिक संघटन, घरेलू तथा दवा-दारू में उपयोग, उनके औद्योगिक उपयोग आदि की विस्तृत जानकारी दी गई है। इन वृक्षों का स्वरूप बताने के लिए 24 रेखाचित्र, 5... Read More

BlackBlack
Vendor: Rajkamal Categories: Rajkamal Prakashan Books Tags: Nature
Description

इस पुस्तक में मानव उपयोगी सात वृक्षों का वर्णन किया गया है।
उनके विविध भाषाओं में नाम, उनकी पहचान, उनका प्राप्ति-स्थान, उनकी कृषि, रासायनिक संघटन, घरेलू तथा दवा-दारू में उपयोग, उनके औद्योगिक उपयोग आदि की विस्तृत जानकारी दी गई है।
इन वृक्षों का स्वरूप बताने के लिए 24 रेखाचित्र, 5 फ़ोटो और 12 रंगीन फ़ोटो दिए गए हैं।
वृक्षों में रुचि रखनेवालों, आयुर्वेद व यूनानी के अध्येताओं, अनुसन्धानकर्ताओं, वन-अधिकारियों व वन-कर्मियों, फ़ार्मेसियों, कच्ची जड़ी-बूटियों के व्यापारियों के लिए यह पुस्तक विशेष रूप से उपयोगी है।
जिन वृक्षों का ‘जंगल के उपयोगी वृक्ष’ में वर्णन है, वे ये हैं—गूलर, बकायन, त्रिफला, बरगद, नीम, बहेड़ा और पीपल। Is pustak mein manav upyogi saat vrikshon ka varnan kiya gaya hai. Unke vividh bhashaon mein naam, unki pahchan, unka prapti-sthan, unki krishi, rasaynik sanghtan, gharelu tatha dava-daru mein upyog, unke audyogik upyog aadi ki vistrit jankari di gai hai.
In vrikshon ka svrup batane ke liye 24 rekhachitr, 5 foto aur 12 rangin foto diye ge hain.
Vrikshon mein ruchi rakhnevalon, aayurved va yunani ke adhyetaon, anusandhankartaon, van-adhikariyon va van-karmiyon, farmesiyon, kachchi jadi-butiyon ke vyapariyon ke liye ye pustak vishesh rup se upyogi hai.
Jin vrikshon ka ‘jangal ke upyogi vriksh’ mein varnan hai, ve ye hain—gular, bakayan, triphla, bargad, nim, baheda aur pipal.