BackBack

Hindi Bhasha : Dakshin Bharat Mein Hindi

Edited by Srabani Bhattacharyya, Dr. Swati Paliwal

Rs. 695.00

महती प्रतिभा की धनी और हिन्दी की सारस्वत सुपुत्री डॉ. मधु धवन का अभिनन्दन करना, उनका सम्मान नहीं, बल्कि अपनी आस्था का अभिनन्दन करना है। विदुषी डॉ. मधु धवन किसी जाति, धर्म की नहीं, हिन्दी की थीं। वर्तमान और भविष्य की पीढ़ी के लिए उनका व्यक्तित्व और कृतित्व, उनकी कृतियों... Read More

BlackBlack
Description
महती प्रतिभा की धनी और हिन्दी की सारस्वत सुपुत्री डॉ. मधु धवन का अभिनन्दन करना, उनका सम्मान नहीं, बल्कि अपनी आस्था का अभिनन्दन करना है। विदुषी डॉ. मधु धवन किसी जाति, धर्म की नहीं, हिन्दी की थीं। वर्तमान और भविष्य की पीढ़ी के लिए उनका व्यक्तित्व और कृतित्व, उनकी कृतियों का मूल्यांकन, उनका दृष्टिकोण एक अमूल्य निधि होगी। सुदूर दक्षिण में गतिरोधों के बावजूद अपने विश्वास और निष्ठा को लेकर हिन्दी की ध्वज-वाहिका डॉ. मधु धवन का शुभाभिनन्दन।