Look Inside
Gonu Jha Ki Anokhi Duniya
Gonu Jha Ki Anokhi Duniya

Gonu Jha Ki Anokhi Duniya

Regular price Rs. 233
Sale price Rs. 233 Regular price Rs. 250
Unit price
Save 7%
7% off
Tax included.

Earn Popcoins

Size guide

Pay On Delivery Available

Rekhta Certified

7 Day Easy Return Policy

Gonu Jha Ki Anokhi Duniya

Gonu Jha Ki Anokhi Duniya

Cash-On-Delivery

Cash On Delivery available

Plus (F-Assured)

7-Days-Replacement

7 Day Replacement

Product description
Shipping & Return
Offers & Coupons
Read Sample
Product description

मिथिलांचल मखाना में गोनू झा के किस्से उसी तरह प्रचलित हैं जैसे मछली और मखाना। कहते हैं कि बिना मछली और मखाना के मिथिलांचल में कोई शुभ कार्य नहीं होता और बिना गोनू झा के क़‍िस्सों के कोई जलसा सम्पन्न नहीं होता।
मिथिलांचल में पाँच सौ साल पहले अज्ञान भी था और अभाव भी। चोरी, ठगी आदि के क़‍िस्सों से इस बात का अन्दाज़ सहज ही लग जाता है। साधु-महात्माओं के क़‍िस्से भी गोनू झा के क़‍िस्सों के साथ-साथ चलते हैं। गोनू झा के प्रचलित क़‍िस्सों से पता चलता है कि मिथिलांचल के तत्कालीन समाज में अन्धविश्वासों का व्यापक प्रभाव था। जादू, टोना-टोटका आदि के सहारे लोग अपनी शक्ति और सामर्थ्य बढ़ाने का प्रयास करते थे।
कुछ शोधकर्ताओं का मानना है कि गोनू झा के जीवनकाल की घटनाओं के साथ ही विभिन्न काल खंडों में गोनू झा के क़‍िस्सों में नए क़‍िस्से भी जुड़ते गए हैं जिसके कारण पाँच शताब्दियों के बाद भी गोनू झा के क़‍िस्से नयापन लिए हमारे सामने आ रहे हैं। आते ही जा रहे हैं। ये क़‍िस्से रोचक हैं। मनोरंजक हैं और ज्ञानवर्द्धक भी। लगन, मेहनत, धैर्य, वाक्पटुता अवसर की समझ जैसे कई गुण इन क़‍िस्सों में पिरोए गए हैं, जो अनजाने ही पाठकों के मन में घर कर जाते हैं। Mithilanchal makhana mein gonu jha ke kisse usi tarah prachlit hain jaise machhli aur makhana. Kahte hain ki bina machhli aur makhana ke mithilanchal mein koi shubh karya nahin hota aur bina gonu jha ke qa‍isson ke koi jalsa sampann nahin hota. Mithilanchal mein panch sau saal pahle agyan bhi tha aur abhav bhi. Chori, thagi aadi ke qa‍isson se is baat ka andaz sahaj hi lag jata hai. Sadhu-mahatmaon ke qa‍isse bhi gonu jha ke qa‍isson ke sath-sath chalte hain. Gonu jha ke prachlit qa‍isson se pata chalta hai ki mithilanchal ke tatkalin samaj mein andhvishvason ka vyapak prbhav tha. Jadu, tona-totka aadi ke sahare log apni shakti aur samarthya badhane ka pryas karte the.
Kuchh shodhkartaon ka manna hai ki gonu jha ke jivankal ki ghatnaon ke saath hi vibhinn kaal khandon mein gonu jha ke qa‍isson mein ne qa‍isse bhi judte ge hain jiske karan panch shatabdiyon ke baad bhi gonu jha ke qa‍isse nayapan liye hamare samne aa rahe hain. Aate hi ja rahe hain. Ye qa‍isse rochak hain. Manoranjak hain aur gyanvarddhak bhi. Lagan, mehnat, dhairya, vakpatuta avsar ki samajh jaise kai gun in qa‍isson mein piroe ge hain, jo anjane hi pathkon ke man mein ghar kar jate hain.

Shipping & Return

Contact our customer service in case of return or replacement. Enjoy our hassle-free 7-day replacement policy.

Offers & Coupons

Use code FIRSTORDER to get 10% off your first order.


Use code REKHTA10 to get a discount of 10% on your next Order.


You can also Earn up to 20% Cashback with POP Coins and redeem it in your future orders.

Read Sample

Customer Reviews

Be the first to write a review
0%
(0)
0%
(0)
0%
(0)
0%
(0)
0%
(0)

Related Products

Recently Viewed Products