BackBack

Baat Paise Ki : Mehnat Ki Kamai Se Karaye Mehnat

Monika Halan Translator by Mridula Halan

Rs. 250.00

पैसा कमाने के लिए हम जी तोड़ मेहनत करते हैं। हम कितना भी पैसा कमा लें, पैसे की चिन्ता हमारा पीछा ही नहीं छोड़ती। बिल, किराया, ई.एम.आई., बीमारी और दवाइयों पर होने वाला ख़र्च छुट्टियों में कहीं जाना, बच्चों की पढ़ाई...के अलावा एक अव्यक्त-सी चिन्ता हमेशा हमें सालती रहती है... Read More

BlackBlack
Description
पैसा कमाने के लिए हम जी तोड़ मेहनत करते हैं। हम कितना भी पैसा कमा लें, पैसे की चिन्ता हमारा पीछा ही नहीं छोड़ती। बिल, किराया, ई.एम.आई., बीमारी और दवाइयों पर होने वाला ख़र्च छुट्टियों में कहीं जाना, बच्चों की पढ़ाई...के अलावा एक अव्यक्त-सी चिन्ता हमेशा हमें सालती रहती है कि सेवानिवृत्ति के बाद हमारा क्या होगा? हमने पैसा कमाने के लिए जितनी मेहनत की, सोचिए, अगर उतनी ही संजीदगी से बचत का निवेश करें तो ज़िन्दगी कितनी सहज हो जाये। निवेश की कौन-सी स्कीम बेकार है, यह पता लगाने का अचूक नुस्ख़ा मिल जाये? कोई ऐसी आसानी से समझ आने वाली स्कीम मिल जाये जो आने वाले कल के लिए पुख़्ता बचत करने के साथ-साथ हमारे 'आज' को भी ख़ुशहाल रख सके? व्यक्तिगत वित्त प्रबन्धन का जाना-माना और भरोसेमन्द नाम, मोनिका हालन, आपको वित्तीय सुरक्षा का एक आसान तरीक़ा बता रही हैं। यह पुस्तक आपको तत्काल अमीर होने का नुस्ख़ा नहीं बताती; पर आप जैसी ज़िन्दगी जीना चाहते हैं, उसका तरीक़ा प्रस्तुत करती है। इसे अपनाकर आपको यह चिन्ता नहीं सतायेगी कि सही निवेश और दोषरहित बीमा कौन-सा है। भारतीय परिदृश्य को ध्यान में रखकर, विशेष रूप से आपके लिए ही लिखी गयी है।