Look Inside
Antariksha Yatra
Antariksha Yatra
Antariksha Yatra
Antariksha Yatra
Antariksha Yatra
Antariksha Yatra
Antariksha Yatra
Antariksha Yatra
Antariksha Yatra
Antariksha Yatra

Antariksha Yatra

Regular price Rs. 326
Sale price Rs. 326 Regular price Rs. 350
Unit price
Save 7%
7% off
Tax included.

Earn Popcoins

Size guide

Pay On Delivery Available

Rekhta Certified

7 Day Easy Return Policy

Antariksha Yatra

Antariksha Yatra

Cash-On-Delivery

Cash On Delivery available

Plus (F-Assured)

7-Days-Replacement

7 Day Replacement

Product description
Shipping & Return
Offers & Coupons
Read Sample
Product description

विज्ञान के क्षेत्र में अन्तरिक्ष-अनुसन्धान सदैव ही उत्सुकता का विषय रहा है। पाठक इस विषय की मूलभूत और सैद्धान्त‍िक बातों को सहज-सरल तरीक़े से समझना चाहते रहे हैं। उनकी उत्सुकता के विषय आम तौर पर यह रहते हैं कि अन्तरिक्षयान पृथ्वी से चन्द्र, मंगल या शुक्र तक किस प्रकार पहुँचते हैं? राकेट किस प्रकार बनता है और यह कैसे कार्य करता है? राकेट में किन ईंधनों का इस्तेमाल होता है? राकेट-यानों को पार्थिव कक्षाओं में किस प्रकार स्थापित किया जाता है? ऊपर अन्तरिक्ष में भार-रहित अवस्था का निर्माण क्यों होता है? भविष्य में दूर के ग्रहों तथा नज़दीक के तारों तक की यात्राएँ कैसे सम्पन्न होंगी? इत्यादि। अपनी 'अन्तरिक्ष-यात्रा’ पुस्तक में प्रसिद्ध विज्ञान लेखक गुणाकर मुळे ने इन सारे प्रश्नों के साथ-साथ 'महिला अन्तरिक्ष-यात्री’, 'अन्तरिक्ष में भारत के बढ़ते क़दम’, 'अन्तरिक्ष में हथियारों की होड़’ जैसे विषयों की भी गहराई से पड़ताल की है, ताकि पाठक अन्‍तरिक्ष के हर एक पहलू से ठीक-ठीक अवगत हो सकें। पुस्तक में बहुत-से चित्र हैं, जो इस विषय की कई सूक्ष्म बातों को समझने में सहायक सिद्ध होंगे। विषय को ऐतिहासिक पृष्ठभूमि में प्रस्तुत किया गया है, ताकि पाठकों को विकास की भी जानकारी मिल सके, इसलिए परिशिष्ट में 'अन्तरिक्ष-यात्रा विज्ञान का संक्षिप्त विकासक्रम’ अध्याय विशेष महत्त्व का बन पड़ा है। साथ ही, विषय से सम्‍बन्‍धि‍त 'हिन्‍दी-अंग्रेज़ी पारिभाषिक शब्दावली’ होने से पाठक अतिरिक्त रूप से लाभान्‍वि‍त हो सकेंगे। अन्तरिक्ष-यात्रा के सैद्धान्तिक और ऐतिहासिक परिप्रेक्ष्य में ठोस आधार पर लिखी गई यह पुस्तक पाठकों के साथ-साथ शोधार्थियों और अध्येताओं के लिए भी उपयोगी सिद्ध होगी। Vigyan ke kshetr mein antriksh-anusandhan sadaiv hi utsukta ka vishay raha hai. Pathak is vishay ki mulbhut aur saiddhant‍ik baton ko sahaj-saral tariqe se samajhna chahte rahe hain. Unki utsukta ke vishay aam taur par ye rahte hain ki antrikshyan prithvi se chandr, mangal ya shukr tak kis prkar pahunchate hain? raket kis prkar banta hai aur ye kaise karya karta hai? raket mein kin iindhnon ka istemal hota hai? raket-yanon ko parthiv kakshaon mein kis prkar sthapit kiya jata hai? uupar antriksh mein bhar-rahit avastha ka nirman kyon hota hai? bhavishya mein dur ke grhon tatha nazdik ke taron tak ki yatrayen kaise sampann hongi? ityadi. Apni antriksh-yatra’ pustak mein prsiddh vigyan lekhak gunakar muळe ne in sare prashnon ke sath-sath mahila antriksh-yatri’, antriksh mein bharat ke badhte qadam’, antriksh mein hathiyaron ki hod’ jaise vishyon ki bhi gahrai se padtal ki hai, taki pathak an‍tariksh ke har ek pahlu se thik-thik avgat ho saken. Pustak mein bahut-se chitr hain, jo is vishay ki kai sukshm baton ko samajhne mein sahayak siddh honge. Vishay ko aitihasik prishthbhumi mein prastut kiya gaya hai, taki pathkon ko vikas ki bhi jankari mil sake, isaliye parishisht mein antriksh-yatra vigyan ka sankshipt vikasakram’ adhyay vishesh mahattv ka ban pada hai. Saath hi, vishay se sam‍ban‍dhi‍ta hin‍di-angrezi paribhashik shabdavli’ hone se pathak atirikt rup se labhan‍vi‍ta ho sakenge. Antriksh-yatra ke saiddhantik aur aitihasik pariprekshya mein thos aadhar par likhi gai ye pustak pathkon ke sath-sath shodharthiyon aur adhyetaon ke liye bhi upyogi siddh hogi.

Shipping & Return

Contact our customer service in case of return or replacement. Enjoy our hassle-free 7-day replacement policy.

Offers & Coupons

Use code FIRSTORDER to get 10% off your first order.


Use code REKHTA10 to get a discount of 10% on your next Order.


You can also Earn up to 20% Cashback with POP Coins and redeem it in your future orders.

Read Sample

Customer Reviews

Be the first to write a review
0%
(0)
0%
(0)
0%
(0)
0%
(0)
0%
(0)

Related Products

Recently Viewed Products