Abhinav Hindi Vyakaran

Regular price Rs. 327
Sale price Rs. 327 Regular price Rs. 352
Unit price
Save 7%
7% off
Tax included.

Size guide

Cash On Delivery available

Rekhta Certified

7 Days Replacement

Abhinav Hindi Vyakaran

Abhinav Hindi Vyakaran

Cash On Delivery available

Plus (F-Assured)

7 Day Replacement

Product description
Shipping & Return
Offers & Coupons
Read Sample
Product description

यह पुस्तक केवल पुस्तक ही नहीं है, बल्कि एक ऐसी व्याकरण अभ्यास-पुस्तिका है जिसे पढ़ने के बाद आप बख़ूबी समझ जाएँगे कि इसे आप तक पहुँचाने की आवश्यकता क्यों पड़ी। शिरोरेखा किसे कहते हैं; यह क्यों आवश्यक है; नुक्ता क्या है; बिन्दु-चन्द्रबिन्दु का प्रयोग कब-कब किया जाता है; श को कैसे-कब लिखा जाता है; ड/ड़ और ढ/ढ़; में क्या अन्तर है; वर्णमाला कैसे याद की जाए; बारहखड़ी से मात्राएँ किस प्रकार सीखी जा सकती हैं; संज्ञा, सर्वनाम, विशेषण और क्रिया किसे कहते हैं; सन्धि क्या है; समास किसे कहते हैं?—आदि छोटे-छोटे बिन्दुओं की जानकारी के साथ पत्र लिखने की कला पर भी प्रकाश डाला गया है। व्याकरण को गणित के माध्यम से समझने और पढ़ने का तरीक़ा बताया गया है। जैसे—(1) संज्ञा के भेद—3; (2) सर्वनाम के—6 (3X2=6) (3) विशेषण के—4 (6-2=4) आदि। संविधान द्वारा स्वीकृत 18 भाषाओं को वर्ण वर्ग के हिसाब से 3,4,3,5,3 (=18) में बाँटा गया है। पुस्तक में सर्वत्र मानक वर्तनी का प्रयोग किया गया है। Ye pustak keval pustak hi nahin hai, balki ek aisi vyakran abhyas-pustika hai jise padhne ke baad aap bakhubi samajh jayenge ki ise aap tak pahunchane ki aavashyakta kyon padi. Shirorekha kise kahte hain; ye kyon aavashyak hai; nukta kya hai; bindu-chandrbindu ka pryog kab-kab kiya jata hai; sha ko kaise-kab likha jata hai; da/da aur dha/dha; mein kya antar hai; varnmala kaise yaad ki jaye; barahakhdi se matrayen kis prkar sikhi ja sakti hain; sangya, sarvnam, visheshan aur kriya kise kahte hain; sandhi kya hai; samas kise kahte hain?—adi chhote-chhote binduon ki jankari ke saath patr likhne ki kala par bhi prkash dala gaya hai. Vyakran ko ganit ke madhyam se samajhne aur padhne ka tariqa bataya gaya hai. Jaise—(1) sangya ke bhed—3; (2) sarvnam ke—6 (3x2=6) (3) visheshan ke—4 (6-2=4) aadi. Sanvidhan dvara svikrit 18 bhashaon ko varn varg ke hisab se 3,4,3,5,3 (=18) mein banta gaya hai. Pustak mein sarvatr manak vartni ka pryog kiya gaya hai.

Shipping & Return

Shipping cost is based on weight. Just add products to your cart and use the Shipping Calculator to see the shipping price.

We want you to be 100% satisfied with your purchase. Items can be returned or exchanged within 7 days of delivery.

Offers & Coupons

10% off your first order.
Use Code: FIRSTORDER

Read Sample

Customer Reviews

Be the first to write a review
0%
(0)
0%
(0)
0%
(0)
0%
(0)
0%
(0)

Related Products

Recently Viewed Products