Look Inside
Aadivasi : Sahitya Yatra
Aadivasi : Sahitya Yatra
Aadivasi : Sahitya Yatra
Aadivasi : Sahitya Yatra
Aadivasi : Sahitya Yatra
Aadivasi : Sahitya Yatra

Aadivasi : Sahitya Yatra

Regular price Rs. 646
Sale price Rs. 646 Regular price Rs. 695
Unit price
Save 7%
7% off
Tax included.

Earn Popcoins

Size guide

Pay On Delivery Available

Rekhta Certified

7 Day Easy Return Policy

Aadivasi : Sahitya Yatra

Aadivasi : Sahitya Yatra

Cash-On-Delivery

Cash On Delivery available

Plus (F-Assured)

7-Days-Replacement

7 Day Replacement

Product description
Shipping & Return
Offers & Coupons
Read Sample
Product description

आदिवासी साहित्य यात्रा के विभिन्न पड़ावों को विभिन्न लेखकों-विशेषज्ञों ने अपने-अपने ढंग से लिखे लेखों में व्यक्त किया है, जो इस पुस्तक में संगृहीत हैं। उन्हीं की भाषा-बोली में व्यक्त आदिवासियों की ज़िन्दगी और उनकी चेतना का सटीक और सही चित्रण करनेवाली इस पुस्तक का सम्पादन रमणिका गुप्ता ने किया है। सदियों तक साधी गई चुप्पी को तोड़कर स्थापितों द्वारा बनाए दायरे को विध्वंस करने की चेतना अब आदिवासियों में जन्म ले चुकी है। बदलते परिवेश में वो अपने विस्थापन और सफलता से दूर रखे जाने के षड्यंत्र को भली-भाँति पहचान चुका है। जीवन के कई पहलुओं से रू-ब-रू कराता आदिवासी लेखन संघर्ष, उल्लास और आक्रामकता का साहित्य है। छल-कपट, भेदभाव, ऊँच-नीच से दूर तथा सामाजिक न्याय का पक्षधर इस साहित्य का आधार आदिवासियों की संस्कृति, भाषा, इतिहास, भूगोल तथा उनके जीवन की समस्याओं और प्रकृति के प्रति उनका गहरा लगाव है। यह पुस्तक आदिवासी लोगों के जीवन की अनेक बारीकियों का चिन्तन व मनन तथा अधिक से अधिक उनके विषय में जानने की जिज्ञासा को बढ़ाती है। Aadivasi sahitya yatra ke vibhinn padavon ko vibhinn lekhkon-visheshagyon ne apne-apne dhang se likhe lekhon mein vyakt kiya hai, jo is pustak mein sangrihit hain. Unhin ki bhasha-boli mein vyakt aadivasiyon ki zindagi aur unki chetna ka satik aur sahi chitran karnevali is pustak ka sampadan ramanika gupta ne kiya hai. Sadiyon tak sadhi gai chuppi ko todkar sthapiton dvara banaye dayre ko vidhvans karne ki chetna ab aadivasiyon mein janm le chuki hai. Badalte parivesh mein vo apne visthapan aur saphalta se dur rakhe jane ke shadyantr ko bhali-bhanti pahchan chuka hai. Jivan ke kai pahaluon se ru-ba-ru karata aadivasi lekhan sangharsh, ullas aur aakramakta ka sahitya hai. Chhal-kapat, bhedbhav, uunch-nich se dur tatha samajik nyay ka pakshdhar is sahitya ka aadhar aadivasiyon ki sanskriti, bhasha, itihas, bhugol tatha unke jivan ki samasyaon aur prkriti ke prati unka gahra lagav hai. Ye pustak aadivasi logon ke jivan ki anek barikiyon ka chintan va manan tatha adhik se adhik unke vishay mein janne ki jigyasa ko badhati hai.

Shipping & Return

Contact our customer service in case of return or replacement. Enjoy our hassle-free 7-day replacement policy.

Offers & Coupons

Use code FIRSTORDER to get 10% off your first order.


Use code REKHTA10 to get a discount of 10% on your next Order.


You can also Earn up to 20% Cashback with POP Coins and redeem it in your future orders.

Read Sample

Customer Reviews

Be the first to write a review
0%
(0)
0%
(0)
0%
(0)
0%
(0)
0%
(0)

Related Products

Recently Viewed Products